राष्ट्र समर्पण: गुजरात का जांबाज युवा ने कोविड -19 के रसि परिक्षण के लिए अपना शरीर देने के लिए तैयार है

राष्ट्र समर्पण: गुजरात का जांबाज युवा ने कोविड -19 के रसि परिक्षण के लिए अपना शरीर देने के लिए तैयार है

गुजरात के रहने वाले इस जाबाज विरयुवा सत्यम ने एक मानवतावादी पहल की है
वर्तमान समय में दुनिया भर में करोडो लोग संक्रमित हुये हे, अब तक इस महामारी का कोई इलाज नहीं मिला है, कोरोना के पोजिटिव लोगो की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है, मानव जीवन स्तब्ध है, भय डर और आफत के समय में यह जाबाज गुजराति युवा सत्यम की देश के लिये देह देने की बात ने देश के लोगो में हिंमत बढाई हे, आज यह भारत के लिए गौरव की बात है ऐसे जाबाज युवा आज भी हमारे भारत देश मे हे,
गुजरात के इस राष्ट्रवादी जांबाज युवा सत्यम ने दिल्ली में प्रधानमंत्री कार्यालय में आवेदन के साथ फिर से ट्विटर पर प्रधानमंत्री को ट्वीट भी किया है। फिलहाल शासन और प्रशासन भी दिन-रात पर्याप्त कडी मेहनत कर रहा है, जब यह युवा योद्घा सत्यम कहता है कि देश है तो हम हैं, जब मुजे हमारे देश के प्रधानमंत्री एक आदेश देंगे और मैं इस आदेश का पालन करके अपना योगदान देने के लिए तैयार रहूंगा। और वर्तमान समय में, हम सभी भारतीयों को, मानव के रूप में, इस वैश्विक आफत कोरोना को हराने के लिए तैयार रहना हे, जागरूक होना हे, और एकजुट हो करके भारत को जीताना हे।

Comments are closed.