अब धरती पर केवल यह एक इलाक़ा कोरोना वायरस से बचा है!

कोरोना वायरस से पूरी दुनिया में हाहाकार मचा है लेकिन जोन्स हापकिंग्स युनिवर्सिटी के एक अध्धयन में बताया गया है कि दुनिया का एक इलाक़ा अभी बचा है जहां करोना नहीं पहुंच पाया है।

इस युनिवर्सिटी ने उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर बताया है कि धरती पर वह एकमात्र इलाक़ा जहां तक अभी कोरोना वायरस नहीं पहुंचा है, दक्षिणी ध्रुव है।

रिपोर्ट के अनुसार दक्षिणी ध्रुव में अभी तक कोई भी कोविड-19 में ग्रस्त नहीं हुआ है। दक्षिणी ध्रुव में कई हज़ार कर्मचारी, विभिन्न देशों और अंतरराष्ट्रीय स्टेशनों पर काम करते हैं।

ताज़ा आंकड़ों के अनुसार दुनिया भर में डेढ़ लाख से अधिक लोग कोरोना वायरस में ग्रस्त हो चुके हैं जबकि मरने वालों की संख्या 5700 से अधिक हो गयी है जबकि 72500 लोग ठीक भी हो चुके हैं।

गत 31 दिसंबर को चीनी अधिकारियों ने  वूहान नगर में फेफड़े के एक अज्ञात संक्रमण की सूचना दी। वैज्ञानिकों ने जल्द ही पता लगा लिया कि इस बीमारी का ज़िम्मेदार एक नया वायरस है जिसका नाम कोविड-19 रखा गया।

वायरस में ग्रस्त हो जाने के बाद 7 दिनों के भीतर उसके लक्षण प्रकट होते हैं जो बुखार, बदन में दर्द, गले में दर्द, खांसी, मांस पेशियों में दर्द, नाक बहने और सिर दर्द के रूप में हो सकते हैं। कुछ लोगों को दस्त और उल्टी की भी शिकायत होती है लेकिन सब से अधिक चिंता की बात यह है कि इस वायरस में ग्रस्त होने वाले व्यक्ति का फेफड़ा बुरी तरह से प्रभावित होता है। Q.A

Comments are closed.