नवी मुंबई डिटेंशन सेंटर को रद्द करने पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का बहुत बहुत धन्यवाद : शमशेर खान पठान
December 25, 2019
मुज़फ्फरनगर में पुलिस का ज़ुल्म अंग्रेज़ी साम्राज्य के ज़ुल्म से बदतर/ हाजी फज़लुर्रहमान (सांसद) पुलिस ने जिस तरह से निहत्ते लोगों पर रात में घरों में घुसकर ज़ुल्म किया, यह सब केंद्र व प्रदेश की सरकार के इशारे पर हुआ
January 13, 2020

ऑल इण्डिया मिल्ली कॉउंसिल सहारनपुर के जिलाध्यक्ष मौलाना अब्दुल मालिक मुगीसी व सर्वदलीय संघर्ष समिति के संयोजक वीरेंद्र ठाकुर ने ननकाना साहिब गुरुद्वारा और जेएनयू में शरारती तत्वों के छात्रों और शिक्षकों पर हमले की कड़ी निंदा की।

सहारनपुर// सिख समाज के पहले गुरु गुरु नानक देव जी की जन्मस्थली ननकाना साहिब, पाकिस्तान में उपद्रवियों द्वारा गुरुद्वारे पर पत्थरबाजी और सिखों के खिलाफ नारेबाजी ने न केवल मानवता को शर्मसार किया है, बल्कि पाकिस्तान की सरकार को चाहिए कि वह इस घटना में शामिल लोगों को आरोपियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करे। उक्त विचार लोकसभा सांसद हाजी फजलुर्रहमान ने व्यक्त किए। वे आज यहां सहारनपुर के होटल में ऑल इण्डिया मिल्ली कॉउंसिल सहारनपुर और सर्वदलीय संघर्ष समिति के संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।
ननकाना साहिब के गुरुद्वारे में पथराव, पाकिस्तान के पेशावर में सिख लड़के प्रविंद्र की हत्या, जेएनयू में नकाबपोश लोगों द्वारा शिक्षकों और छात्रों के साथ मारपीट, नागरिकता संशोधन अधिनियम, एनपीआर और एनआरसी और यूपी पुलिस द्वारा नागरिकता कानून के संशोधन के खिलाफ शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे लोगों का उत्पीड़न करने तथा देश की वर्तमान स्थिति और विभिन्न मुद्दों पर सहारनपुर के होटल राज महल में ऑल इण्डिया मिल्ली कॉउंसिल सहारनपुर द्वारा आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में सर्वदलीय संघर्ष समिति के पदाधिकारी तथा धर्मगुरु शामिल हुए।
प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए लोकसभा सांसद हाजी फजलुरर्हमान ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को जुमलेबाजी न करके आरोपियों को सजा दिलवानी चाहिए तथा सिख युवाओं की हत्या करने वालों को दंडित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जेएनयू दिल्ली में रात के अंधेरे में, भाजपा छात्र संगठन एबीवीपी ने नकाब पहनकर छात्रों और शिक्षकों को पीटा और विश्वविद्यालय में गुंडागर्दी का प्रदर्शन किया। यह सब केंद्र की चुप्पी का नतीजा है। उन्होंने शाहीन बाग में प्रदर्शन करने वाली महिलाओं के समर्थन की घोषणा की।
समाजवादी पार्टी के विधायक संजय गर्ग और कांग्रेस के पूर्व विधायक सुरेंद्र कपिल ने कहा कि 70 वर्षों में पहली बार विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में पुलिस की बर्बरता देखी गई है।
ऑल इण्डिया मिल्ली कॉउंसिल सहारनपुर के जिलाध्यक्ष मौलाना अब्दुल मालिक मुगीसी व सर्वदलीय संघर्ष समिति के संयोजक वीरेंद्र ठाकुर ने ननकाना साहिब गुरुद्वारा और जेएनयू में शरारती तत्वों के छात्रों और शिक्षकों पर हमले की कड़ी निंदा की।
पार्षद सरदार चंद्रजीत सिंह निक्कू, ईसाई समुदाय के धार्मिक नेता फादर डैनियल और शहर काजी नदीम अख्तर ने कहा कि देश में शांति और कानून व्यवस्था के लिए हम सभी को संयुक्त रूप से संघर्ष करना होगा।
पूर्व मंत्री सरफराज खान और राष्ट्रीय रालोद जिला अध्यक्ष राव कैसर सलीम ने किसानों की समस्याओं का उल्लेख किया।
प्रेस कॉन्फ्रेंस में ब्राउनवुड स्कूल के प्रिंसिपल सैयद सबुई इफ्तिखार, सपा महानगर अध्यक्ष आजम शाह, सैयद हमजा हुसैन, रालोद प्रदेश महासचिव चैधरी धीर सिंह, बसपा जिला उपाध्यक्ष राव बाबर, सलीम कुरैशी गंगोह, क्रिश्चियन सोसाइटी के नेता फादर सुनील अनी कृष्णन, बीएसपी के वरिष्ठ नेता चैधरी अबूबकर, सरदार प्रबिन्द्र सिंह, मौलाना हारिस, सरदार रंजीव सिंह, मजहर उमर खान, सरदार प्रभजीत सिंह, सरदार इंद्रप्रीत सिंह, सरदार राजबीर सिंह, अरशी हसन, सरदार परवीर सिंह, अली गाड़ा, सरदार खुशी सिंह, कारी जावेद, कारी वसीम, सैयद हस्सान आदि उपस्थित रहे।

Comments are closed.