शहरियत तरमीम कानून ने अमित शाह की पोल खोल दी
December 22, 2019
ऑल इण्डिया मिल्ली कॉउंसिल सहारनपुर के जिलाध्यक्ष मौलाना अब्दुल मालिक मुगीसी व सर्वदलीय संघर्ष समिति के संयोजक वीरेंद्र ठाकुर ने ननकाना साहिब गुरुद्वारा और जेएनयू में शरारती तत्वों के छात्रों और शिक्षकों पर हमले की कड़ी निंदा की।
January 9, 2020

नवी मुंबई डिटेंशन सेंटर को रद्द करने पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का बहुत बहुत धन्यवाद : शमशेर खान पठान

नवी मुंबई डिटेंशन सेंटर को रद्द करने पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का बहुत बहुत धन्यवाद : शमशेर खान पठान

मुंबई: 22 दिसंबर २०१९ को पूर्व सहायक पुलिस आयुक्त और अवामी विकास पार्टी के अध्यक्ष शमशेर खान पठान ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में सबसे पहले इस बात को लोगों के सामने लाया था के केंद्र की सरकार ने महाराष्ट्र सरकार को डिटेंशन सेंटर बनाने के लिए जनवरी 2019 में एक आदेश जारी किया और फड़नवीस सरकार ने जुलाई २०१९ में नई मुंबई में डिटेंशन सेंटर बनाने के लिए एक जगह आवंटित की। फडणवीस सरकार ने नई मुंबई में डिटेंशन सेंटर के लिए जगह आवंटित की थी और जब यह खबर सामने आई तो इसके बाद से अवामी विकास पार्टी के अध्यक्ष शमशेर खान पठान के अंदर बेचैनी शुरू हो गयी और उन्होंने तुरंत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से अपील की थी के आवंटित की गयी जगह का आदेश रद्द किया जाए। यह समाचार आग की तरह पूरे महाराष्ट्र में फैल गयी और यही कारण हुवा के गत दिनों आदरणीय मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने नवी मुंबई में बनने वाले डिटेंशन सेंटर के प्रपोसल को खारिज कर दिया और उन्होंने आगे यह भी कहा के महाराष्ट्र सर्कार आने वाले समय कभी भी ऍन सी आर को लागू नहीं किया जाएगा और मुसलामानों को सुरक्षा प्रदान किया जाएगा। सरकार के इस निर्णय को सुनते ही कई इंटेलेकचुअल्स ने शमशेर खान पठान को फ़ोन करके मुबारकबाद दी के उन्ही की पहल के कारण डिटेंशन सेंटर नहीं बनने जा रहा है और मुसलमानों में जो एक भय और तनाव का माहौल था वह पूरी तरह से समाप्त हो गया। शमशेर खान पठान ने कांग्रेस और ऍन सी पी के नेतागण से अपील की है के वह उद्धव ठाकरे जैसे काबिल mukhyamantri को स्वतंत्र रूप से काम करने दें क्योंकि वह धर्मनिरपेक्ष तरीके से सरकार चला रहे हैं और अच्छे अच्छे निर्णय कर रहे हैं जिस से महाराष्ट्र की जनता काफी खुश हैं। उन्होंने कहा के कांग्रेस को आदत है के जब भी वह किसी सरकार में पार्टनर बनती है तो इन सरकारों के मुख्यमंत्रियों को आंतरिक तकलीफ देती है जैसा उन्होंने कर्णाटक में किया था। भारतीय जनता पार्टी आज भी उद्धव ठाकरे को गले लगाने को तैयार है और ऐसी हालत में मुसलमानों के विकास के लिए और उनकी हिफाज़त के लिए कांग्रेस और ऍन सी पी ने उद्धव ठाकरे को सरकार चलने में भरपूर मदद करना चाहिए और उनके सामने कोई समस्या नहीं कड़ी करनी चाहिए वर्ना आने वाले समय में शिवसेना फिर से भारतीय जनता पार्टी से मिल सकती है जो अल्पसंख्यकों के लिए काफी अफसोसनाक होगा। शमशेर खान पठान ने कहा के इस तरह के डिटेंशन सेंटर हिटलर और अन्य हिटलर शाहों की यादगारें है किसी सभ्य देश में ऐसा सोचा भी नहीं जा सकता है। उन्होंने कहा के डिटेंशन सेंटर का निर्माण एक गैर मानवता वाला काम है। जो मुजरिम आदि हो चुके हैं उन्हें भी इस तरह के सेंटरों में रखना मुनासिब नहीं है। उन्होंने कहा के मुख्यमंत्री महाराष्ट्र के इस फैसले से महाराष्ट्र के मुसलमानों में जबरदस्त इत्मीनान है। उन्होंने देश के दुसरे प्रांतों के मुख्यमंत्री से अपील किया के वह उद्धव ठाकरे की राह पर चलें और नाजायज जालिमाना अमल से दूर रहें। शमशेर खान पठान ने कहा के राज्य सरकारें जनता के मतों से चुन कर आती हैं इन पर केंद्र के हर आदेश को मानना जरूरी नहीं है और राज्य अपने हिसाब से लोकतंत्र की बहाली के लिए निर्णय ले सकते हैं।

Comments are closed.